बाकानेर~मां अहिल्या की नगरी विश्व पर्यटन क्षेत्र महेश्वर से नशा मुक्ति अभियान का शंखनाद~~

270000 मौतें होती है हर साल शराब से मेघा पाटकर~~

बाकानेर सैयद अखलाक अली~~

मां अहिल्या की नगरी विश्व पर्यटन क्षेत्र महेश्वर से नशा मुक्ति अभियान का शंखनाद, केंद्रीय मानव अधिकार सुरक्षा संघ के तत्वाधान में पूरे मध्यप्रदेश में चलाया जाएगा नशा मुक्ति अभियान
जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में मेघा पाटकर नर्मदा बचाओ आंदोलन की नेत्री ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ  राष्ट्रगान के साथ किया दीदी  मेघा पाटकर ने नशा ना करने के लिए प्रेरित किया । संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एमडी चौबे ने संगठन के बारे में जानकारी दी एवं नशे से क्या क्या हानियां होती है उसके बारे में बताया ।  महिलाओं ने भी कार्यक्रम में बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया । कार्यक्रम में वरिष्ठ संपादकअसलम कुरेशी, किशनलाल जांगिड, गवेश जायसवाल, इंदर सिंह होरा, डॉक्टर मदन लाल सोनी , हेमंत सोनी, मोनू जायसवाल, मनीष जायसवाल,नवीन जायसवाल , सन्नो मंसूरी शाहबाज खान उपस्थित थे । मेघा पाटकर ने अपने संबोधन में कहा हर साल 270000 मौतें शराब और नशे से हमारे देश में हो रही है कॉलेज के बच्चे नशे की ओर जा रहे हैं, मध्य प्रदेश सरकार राजस्व के नाम पर आम जनता की सेहत से खेल रही हैआम जनमानस को जागृत होना पड़ेगा नशे के खिलाफकेंद्रीय मानव अधिकार सुरक्षा संघ को साधुवाद जिन्होंने यह मुद्दा उठाया और यह अभियान चलाया नशा मुक्ति का इस मार्ग में कठिनाइयां जरूर है लेकिन सफलता मिलेगी वरिष्ठ पत्रकार सैयद रिजवान अली एजाज खान को सम्मानित किया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता आतिश बिछवे ने की ।


Share To:

Post A Comment: