धार~गणपति घाट पर दो अलग-अलग हादसें......
केमिकल से भरे ट्राले में लगी है आग, दो फायर ब्रिगेड भी नही बुझा पाई आग ~~

सुबह तक जलता रहा वाहन, दूसरे ट्राले में फंसा चालक क्रेन की मदद से निकाला~~

धार ( डाँ.अशोक शास्त्री )।

राऊ-खलघाट फोरलेन के गणपति घाट पर हादसे थमने का नाम नहीं ले रहे है । घाट पर वाहनों के ब्रेक फेल होने से प्रतिदिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। घाट पर गुरुवार व शुक्रवार मध्य रात्रि को फिर एक और हादसा हो गया। घाट चढ़ रहे ट्राले के ब्रेक फेल होने से ट्राला अनियंत्रित होकर पीछे चल रहा दूसरे ट्राले को टक्कर मारते हुए डिवाइडर कूद घाट चढ़ने वाली लेन में जा पहुंचा। जहां ट्राले में कुछ देर बाद अज्ञात कारणों से आग लग गई । आग पर काबू पाने की दो फायर बिग्रेड की मदद से कोशिश की गई, किंतु आग पर काबू सुबह तक नहीं पाई जा सकी। 
सुबह तक जलता रहा ट्रक
जानकारी अनुसार धामनोद की तरफ से आकर घाट चढ़ रहा ट्राला क्रमांक जीजे-34-टी-6069 के ब्रेक फेल होने से ट्राला अनियंत्रित होकर रिवर्स आकर पीछे चल रहे दूसरे ट्राला क्रमांक आरजे-11-जीबी 3101 को जोरदार टक्कर मारते हुए डिवाइडर कूद कर घाट चढ़ने वाली लेन पार कर ढाबे के पास जाकर खड़ा हो गया। कुछ देर बाद अज्ञात कारणों से ट्राले में भयानक आग लग गई। देखते ही देखते आग विकराल रूप धारण कर लिया, तुरंत फायर ब्रिगेड को सूचना दी गई।  दो फायर बिग्रेड की मदद से आग पर काबू पाने की कोशिश की गई किंतु ट्राले में केमिकल भरे होने से आग बुझने का नाम नहीं ले रही थी। सुबह तक आग पर काबू नहीं पाया गया। सुबह 10 बजे तीसरी फायर ब्रिगेड की मदद से आग पर काबू पाया।
दूसरे वाहन का चालक ट्रक में फंसा
हादसे में पीछे आ रहा दूसरे ट्राले की टक्कर में उसी का चालक अपने ही वाहन में फंस गया। पुलिस, ग्रामीणों व क्रेन की मदद से करीब 1 घंटे बाद उसे बाहर निकाला गया। जिसे टोल एंबुलेंस की मदद से उपचार के लिए धामनोद अस्पताल भेजा गया। वही कुछ देर बाद धामनोद की तरफ से आकर फिर घाट चढ़ रहा ट्राला क्रमांक एमएच-18-बीए-1396 के ब्रेक फेल होने से ट्राला अनियंत्रित होकर रिवर्स आकर डिवाइडर कूद घाट चढ़ने वाली लाइन पार कर खेत में जाकर रुक गया। गनीमत रही कि इस हादसे में रिवर्स आने पर अन्य वाहन चपेट में नहीं आया। घटना के बाद काकड़दा पुलिस ने पहुंचकर ट्रैफिक व्यवस्था संभाली।


Share To:

Post A Comment: