*खेतिया~नगर पंचायत खेतिया की अकर्मण्यता के चलते हैं देर रात नाले आये पानी के बहाव में युवक  बहते बहते बचा* ~~

खेतिया से  राजेश नाहर की विशेष रिपोर्ट~~

खेतिया~नगर पंचायत खेतिया के क्षेत्र में हनुमान मंदिर के निकट महाराष्ट्र मध्य प्रदेश की सीमा पर बहने वाले नाले की सफाई को लेकर नगर पंचायत प्रशासन द्वारा जिला कलेक्टर शिवराज सिंह वर्मा, अनुविभागीय अधिकारी पानसेमल संयुक्त कलेक्टर सुश्री अंशु जावला के निर्देश के बाद भी नाले की सफाई को लेकर कोई कदम नहीं उठाया गया जिसके चलते कल देर रात में तेज बारिश के साथ आये बहाव में एक युवक सचिन सिरसाट बहते बहते बचा है स्थानीय नागरिकों, नगर पंचायत के पार्षदों द्वारा समय पूर्व ही नगर पंचायत  मुख्य नगरपालिका अधिकारी को इस संबंध में बार-बार कहा गया नगर पंचायत प्रशासन खेतिया द्वारा इसी नाले में सारा कचरा डाला जाता है जिससे पानी के बहाव का मार्ग ही अवरुद्ध हो गया। बड़वानी जिला कलेक्टर महोदय के दिए गए निर्देश के बाद नगर पंचायत ने औपचारिकता पूरी करने के लिए जेसीबी से कचरे को वहीं  फैला दिया जिसके चलते सारा कचरा एकत्रित हो गया देर रात को आई तेज बारिश के बहाव में युवक बहते हुए बच गया। नगर पंचायत प्रशासन की अकर्मण्यता का उदाहरण है  समय रहते नागरिकों ,जनप्रतिनिधियों की सूचना के बाद भी नगर पंचायत परिषद खेतिया मुख्य नगरपालिका अधिकारी यशवंत शुक्ला हर बार आश्वस्त करते रहे कि समय रहते करा लिया जाएगा किंतु कल रात एक बड़ी दुर्घटना होने से बच गई पता नहीं नगर पंचायत प्रशासन कब जागेगा ???
बहने से बचे युवक सचिन सिरसाट ने बताया कि कल देर रात मैं अपने घर जा रहा था तब नाले पर थोड़ा सा पानी था लेकिन अंदर कचरा होने से अचानक उस पर पानी आ गया और मैं लगभग एक से डेढ़ घंटे महा लगे बोर्ड को पकड़कर खड़ा हूं भगवान का शुक्र है कि मैं घर सुरक्षित चले गए
पार्षद गणेश पंवार ने बताया कि हमने बार-बार नगर पंचायत प्रशासन से अनुरोध किया है किंतु नगर पंचायत है कि सुनने को तैयार नहीं हम आज भी अनुरोध करते हैं कि वह जितना जल्दी हो यह काम करें ताकि कोई दुर्घटना ना हो।


Share To:

Post A Comment: