जानो और मानो~~

वास्तु के अनुसार पितरों की तस्वीर कहां लगाएं~~




हमें अपने बड़ों का हमेशा ख्याल रखना चाहिए और उनका सम्मान करना चाहिए । जब वे जीवित हों या भले ही वे दुर्भाग्य से हमारे साथ न हों। जीवन में हमेशा खुश रहने के लिए उनके आशीर्वाद की आवश्यकता हमेशा होती है। 


*यदि आप उनकी तस्वीर अपने कार्यालय या घर में रखना चाहते हैं तो वास्तु के अनुसार रखें।  वास्तु में पितरों की तस्वीर लगाने के लिए विशेष दिशा होती है और वह है आपके घर या कार्यालय की दक्षिण दिशा। 


अब आइए जानते हैं कि पितरों की तस्वीर  को रखते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए....?

 

1) कभी भी उनकी तस्वीर मंदिर में या भगवान की मूर्तियों के साथ न रखें।

 2) कभी भी  तस्वीर घर या कार्यालय के केंद्र में न रखें। 

3) कभी भी  तस्वीर शौचालय, बाथरूम या रसोई की बाहरी दीवार पर न लगाएं। 

4) हमेशा याद रखें  तस्वीर को आधार दें ताकि तस्वीर स्थिर रहे।

 5) हम हमेशा यह लेते हैं कि हमें अपने पूर्वजों की तस्वीर किसी अन्य लोगों के पूर्वजों की नहीं रखनी चाहिए। 

6) यदि आपके परिवार में एक या एक से अधिक पूर्वज हैं तो ध्यान रखें कि उनके चित्रों को एक फ्रेम में फ्रेम ना करें। अलग-अलग पूर्वजों के लिए अलग-अलग फ्रेम का इस्तेमाल करें। 

7) कभी भी जीवित व्यक्ति की तस्वीर पूर्वजों के चित्र के साथ न बनाएं। 

8) कभी भी उनकी तस्वीर बेडरूम में न लगाएं। हमेशा उनकी तस्वीर को साफ-सुथरा रखें। इसे हर दिन दोनों तरफ से साफ करें। 


अब आइए जानते हैं उनकी तस्वीर से आशीर्वाद पाने के लिए कुछ उपाय ............

1) आप उनके फ्रेम के सामने तेल का दीपक रख सकते हैं। 

2) यदि आप रोजाना दीपक रखना संभव नहीं है तो आप गुरुवार या अमावस्या पर रख सकते हैं।

 3) अमावस्या पर प्रसाद का भोग लगाएं।

4) आप उनके फ्रेम पर चंदन की माला डाल सकते हैं। 

5) उनके नाम पर जरूरतमंद लोगों को भोजन और कपड़े दान कर सकते हैं।

 

मुझे आशा है कि आप सभी को मेरे द्वारा साझा की गई जानकारी पसंद आई होगी। आप अपने पूर्वजों का आशीर्वाद पाने के लिए तस्वीर के समक्ष यह कहे कि मैं प्रार्थना करता हूं कि आप हमें हमेशा आशीर्वाद देते रहें और हमारे जीवन में हमेशा खुशी भरते रहे। 

आप अपने प्रश्न मुझे मेरे व्हाट्सएप नंबर 86575-58641 पर भी भेज सकते है।


Share To:

Post A Comment: