झाबुआ~पिछले 10 दिन में प्याज के दामों में भी 5 रुपए प्रति किलो की गिरावट से लोगों को मिली राहत~~





झाबुआसंजय जैन~~

जिले में अभी तक पर्याप्त बारिश नहीं हुई,फिर भी लोकल के किसानों की फसलें बाजार में आने लगी हैं। जिससे हरी सब्जियों के दामों के साथ टमाटर के दामों में गिरावट देखने को मिल रही है। करीब 15 दिन पहले तक 60 रुपए किलो बिकने वाला टमाटर अब 30 रुपए किलो बिक रहा है। प्याज के दामों में भी 5 रुपए प्रति किलो की गिरावट देखने के लिए मिल रही है। इसके अलावा नीबू के दाम भी अब 80 रुपए किलो तक पहुंच गए हैं। डेढ़ महीने पहले 300 रुपए किलो तक नीबू के दाम पहुंच गए थे,लेकिन अब नीबू के दामों में काफी गिरावट देखने को मिल रही है। वहीं गिल्कीए लौकी और करेला के दामों में भी गिरावट आने लगी है। अब तक 40 रुपए किलो बिकने वाली गिल्की और लौकी के दाम 30 रुपए हो गए हैं।





 
दामों में गिरावट से लोगों को राहत मिली............
सब्जियों के दामों में गिरावट से लोगों को राहत मिली है। सब्जी विक्रेता हरप्रसाद ने बताया कि अभी तक मंडी में बाहर की सब्जी आ रही थी। ऐसे में भाड़ा अधिक लगने के कारण सब्जियों के दाम आसमान छू रहे थे,लेकिन बारिश के मौसम में लोकल की सब्जी की आवक बढ़ने लगी है। जिससे मंडी में लोकल की उपज आते ही दामों में गिरावट देखने को मिली है। उन्होंने बताया कि आने वाले दिनों में सब्जियों में थोड़ी बहुत गिरावट और देखने को मिलेगी।
सब्जियों के थोक विक्रेता आमिर बागवान का कहना है कि इस समय जिले में पर्याप्त बारिश नहीं हुई है। ऐसे में भी फसल फिलहाल ठीक है। बेहतर क्वालिटी का टमाटर जो पहले 60 का था अब थोक में 20 रुपए किलो तक मंडी में आ रहा है। उन्होंने बताया कि इस समय शादियों का सीजन भी नहीं है। इसलिए दामों में गिरावट आई है।
सब्जी                   पहले           अब
टमाटर                  60              30
प्याज                   20              15
गिल्की                 40              20
करेला                 40              30
लौकी                  30              25
 भिंडी                 40              30
नीबू                  100             80
ककड़ी               50               40




Share To:

Post A Comment: