धार~14 को प्रभावना जुलूस के साथ होगा सिद्धचक्र महामंडल विधान का समापन ~~

12 जुलाई को चढ़ाए 512 अर्घ्य,  महिलाओं ने किया गरबा नृत्य ~~

धार ( डॉ. अशोक शास्त्री )

। 14 जुलाई को प्रभावना जुलूस के साथ 7 दिन से चल रहे सिद्ध चक्र मंडल विधान का समापन होगा। यह प्रभावना जुलूस दोपहर में पूजन स्थल से निकलेगा। इसी दिन सम्मान आदि कार्यक्रम भी होंगे। दिगंबर जैन समाज के अध्यक्ष अशोक कासलीवाल ने कहा है कि समाज की ओर से लाभार्थी परिवार के मुखिया नरेश कुमार गंगवाल को समाजरत्न की उपाधि से सम्मानित किया जाएगा। आयोजन के मीडिया प्रभारी सुभाष जैन ने बताया कि मंगलवार 12 जुलाई को 512 अर्घ्य चढ़ाए गए। विधानाचार्य ब्रह्मचारी तरुण भैया का कहना था कि 13 जुलाई को  2040 अर्घ्य पूरे कर लिए जाएंगे। भोपाल से आई सचिन तन्मय एंड पार्टी भी अर्घ्य चढ़ाने में संगीत के साथ तरुण भैया का पूरा साथ दे रहे है।
महिलाओं ने किया गरबा नृत्य
महिलाओं ने मंगलवार को पूजन के दौरान  गरबा नृत्य व अन्य नृत्य भक्ति के साथ  प्रस्तुत किए। भगवान के अभिषेक के साथ शांति धारा का लाभ लाभार्थी परिवार के मुखिया नरेश कुमार श्रेणिक कुमार गंगवाल के अतिरिक्त डॉक्टर कमल रोहित छाबड़ा धार, राजेंद्र बांझल परिवार धार, संजय कुमार विमल कुमार बेरछा वाले धार, केएल जैन परिवार धार, माणकचंद बड़जात्या परिवार धार, विमलचंद गोधा परिवार धार ने लिया। आरती करने का लाभ राजकुमार ज्ञानचंद रावका धार को मिला। संध्या को महाआरती के दौरान महिला व पुरुषों ने नृत्य आदि कर भक्ति की। विधानाचार्य तरुण भैया  ने श्रीपाल व सती मैना सुंदरी की कथा का बहुत ही सुंदर ढंग से सारगर्भित वर्णन करते हुए सिद्धचक्र महामंडल विधान का महत्व बताया।


Share To:

Post A Comment: