झाबुआ~आवेदन के लिए 30 तक का समय,एक महीना देरी से शुरू होगी पढ़ाई, कक्षा में अन्य बच्चों से पिछड़ जाएंगे ये बच्चे~~

जिले के लिए 1853 सीट के मुकाबले 1453 कर चुके हैं आवेदन,65 फीसदी का हो चुका सत्यापन कार्य-सत्यापन कार्य चुनाव से हुआ प्रभावित~~



झाबुआसंजय जैन~~

जिले में सरकारी व निजी स्कूलों में शिक्षण सत्र की शुरुआत हो चुकी है और पढ़ाई भी चल रही है। लेकिन शिक्षा का अधिकार कानून-आरटीई के तहत निजी स्कूलों में प्रवेश देने की प्रक्रिया देरी से शुरू हुई। प्रवेश प्रक्रिया के लिए 30 जून तक ऑनलाइन आवेदन लिए गए,पश्चात प्रवेश दिया जाएगा। जिससे आरटीई के तहत प्रवेश लेने वाले बच्चों की पढ़ाई पर असर पड़ेगा। जब वे स्कूल जाना शुरू करेंगे ,उनका करीब 1 माह का कोर्स छूट जाएगा। प्रदेश सहित जिले में आरटीई के तहत निजी स्कूलों में 25 प्रतिशत गरीब बच्चों को प्रवेश दिया जा रहा है। इसके लिए जिले  के निजी स्कूलों में 1 हजार 853 सीट पर प्रवेश देने का लक्ष्य मिला है। इसमें से 23 जुलाई तक तक 866 सीटें आवंटित की गई है।





 
स्कूलों का ऑनलाइन आवंटन होगा...............
ऑनलाइन आवेदन करने के साथ ही जिले के 64 जन शिक्षा केंद्रों पर अभिभावकों द्वारा भरे गए ऑनलाइन आवेदन के सत्यापन का कार्य 23 जुलाई तक चला। सत्यापन के बाद बच्चों को स्कूलों का ऑनलाइन आवंटन होगा। प्रथम चरण में इस प्रक्रिया में दाखिले नहीं हुए तो विभाग दूसरे व तीसरे चरण में भी इसी प्रक्रिया के आधार पर अभिभावकों से आवेदन बुलाए और निजी स्कूलों में प्रवेश देंगे ।





 
सत्यापन कार्य में प्रदेश में 33वे नंबर पर जिला........................
आरटीई के तहत ऑनलाइन आवेदन करने के साथ सत्यापन का कार्य 23 जुलाई तक चला। प्रदेश के 52 जिलों में आवेदन के मुकाबले सत्यापन कार्य में जिला 33 वे नंबर पर है। पहले 91,दूसरे 89 व तीसरे स्थान पर 88 फीसदी सत्यापन कार्य के साथ सिवनी,उमरिया व रायसेन है। जबकि 80 फीसदी के साथ झाबुआ 33वे नंबर पर है। जिले में आवंटित 1853 सीट के मुकाबले 23 जुलाई तक 1453 अभिभावकों ने अपने बच्चों के लिए आवेदन भरें है। इसके मुकाबले जिले में 1283 आवेदन का सत्यापन हो चुका है। इसमें से 23 जुलाई तक तक 866 सीटें आवंटित की गई है।





 
दूसरे चरण में मिलेगा च्वाइस अपडेट का अवसर..................
इस बार आरटीई के तहत निशुल्क प्रवेश प्रक्रिया के दूसरे चरण में सिर्फ स्कूलों की च्वाइस अपडेट करने का मौका मिलेगा। 30 जून के बाद कोई भी विद्यार्थी आवेदन या त्रुटि सुधार नहीं कर पाएगा। निजी स्कूलों में दूसरा चरण 27 जुलाई शुरू हो चुका है। इसके लिए 27 जुलाई को रिक्त सीटों की जानकारी ऑनलाइन अपलोड कर दी गयी है।  27 जुलाई से 31 जुलाई तक बच्चे स्कूलों की च्वाइस को अपडेट करेंगे। इसके बाद 2 अगस्त को लॉटरी द्वारा स्कूल आवंटन किया जाएगा।  3 से 6 अगस्त तक बच्चों को आवंटित स्कूलों में पहुंचकर प्रवेश लेना होगा।






सत्यापन का कार्य चुनाव से प्रभावित हुआ .........................





जिले आवंटित सीट के मुकाबले जितने भी ऑनलाइन आवेदन हो रहे है। उनका सत्यापन कार्य समय पर करने के निर्देश दे रखे है। ताकि प्रथम चरण में प्रवेश देने का काम समय पर हो। जिले के 64 जन शिक्षा केंद्रों पर जिम्मेदारी सौंपी गई है। सत्यापन का कार्य चुनाव से प्रभावित हुआ है।





................................रालुसिंह सिंगार ,डीपीसी-झाबुआ।




Share To:

Post A Comment: