झाबुआ~पूरे देश और विदेश में, अपनी रचनाओ से अद्भुत पहचान बना चुके डॉ रामशंकर चंचल~~                                      



झाबुआ। झाबुआ में जन्में डॉ रामशंकर चंचल आज अपनी रचनाओं के माध्यम से पूरे देश और विदेश में अपने लाखों प्रशंसक बना चुके है हर माह उनके सात आठ यूट्ब चैनल पर गीत, कविता, गजल, कथा आदि नयी आती हैं वही जिसे प्रतिदिन पांच से सात सौं साहित्य और संगीत प्रेमी द्वारा सुना जाता हैं। वही प्रतिदिन उनकी प्रकाशित रचनाओं को हजारों पाठकों द्वारा पड़ा और खूब सराहना की जाती हैं।आज देश में एक बड़े सम्मान के साथ उनकी नई रचनाओं को सुनने वाले को बेहद इंतजार रहता है।सचमुच यह बहुत ही गर्व का विषय है कि आदिवासी अन्चल झाबुआ में जन्में डॉ रामशंकर आज पूरे देश और विदेश में अपनी पहचान के साथ देश, प्रदेश और जिले को भी गोरव प्रदान कर रहे है,जो वन्दनीय है। इस जिले के लिए वो एक ऐसा इतिहास रच रहे हैं, जो सदा ही बहुत ही आदर और सम्मान से लिया जायेगा।


Share To:

Post A Comment: