धार~ गलत प्रक्रिया से रकम देने पर शाखा प्रबंधक निलंबित ~~

धार ( डॉ. अशोक शास्त्री )।

मंडी प्रांगण स्थित जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक  की शाखा के प्रबंधक पर गलत प्रक्रिया से 14 लाख 90 हजार राशि के भुगतान पर उन्हें पद से निलंबित किया गया है। यह आदेश जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक महाप्रबंधक पीएस धनवाल ने इस मामले में जांच रिपोर्ट आने के बाद दिए है। प्रबंधक शुक्ला के खिलाफ अपराधिक प्रकरण दर्ज कराने की तैयारी की जा रही है। इधर निलंबन अवधि के दौरान उन्हें मुख्यालय बैंक शाखा बगड़ी भेजा गया है। जांच रिपोर्ट में पाया गया है कि खाताधारक बापूसिंह पिता घीसाजी अपने बचत खाते को हस्ताक्षर के माध्यम से संचालित करते थे। उन्हें चेकबुक भी जारी की गई थी। इस तरह की तमाम जानकारी होने के बावजूद शाखा प्रबंधक ने खाताधरक के पौते को विड्राल फार्म पर बगैर दादा के हस्ताक्षर के अंगूठा निशान के आधार पर इतनी बड़ी रकम का भुगतान कर दिया था।
यह था मामला
मामला 19 अप्रैल 2022 का है। इस मामले में वृद्ध बापूसिंह के खाते से पौते द्वारा पैसे निकालने का मामला सामने आने के बाद कुछ लोगों पर धमकाकर पैसे निकलवाने के आरोप-प्रत्यारोप भी हुए थे। इस मामले में पुलिस को आवेदन दिया गया था। इधर भुगतान प्रक्रिया पर आरोप लगने के बाद बैंक ने इस मामले में शाखा प्रबंधक नागदा को जांच अधिकारी नियुक्त किया था। जांच के दौरान श्री शुक्ला की भुगतान करने में कपटपूर्ण भूमिका सामने आई है। उल्लेखनीय है कि चेकबुक धारक और हस्ताक्षर के माध्यम से खाता संचालित करने वाले खाताधारक को विड्राल और अंगूठे निशान के माध्यम से भुगतान नहीं किया जाता है। इस मामले में ना सिर्फ इन नियमों का उल्लंघन किया गया बल्कि थर्ड पार्टी को भुगतान किया गया।


Share To:

Post A Comment: