झाबुआ~अधूरे और बिना नंबर वाले वाहन शहर की सड़कों पर,कार्रवाई का डर नहीं~~

अवैध कार्य-नंबर प्लेट पर पद लिखना अवैध-वाहन चालकों को नहीं है चालान का भय.~~


झाबुआसंजय जैन~~

दो व चार पहिया वाहनों की नंबर प्लेट का साइज तथा फोंट निश्चित है लेकिन शहर में हजारों लोग यातायात के इस नियम का पालन नहीं कर रहे हैं




दबंगों को इसका कोई भय नहीं...............
उनके वाहनों की प्लेट पर नंबर के साथ जाति-धर्म या कोई फैशन साइन है अथवा नंबर प्लेट टूटी है। कई लोगों के वाहनों की नंबर प्लेट पर नंबर ही नहीं है। परिवहन विभाग के नियमों के मुताबिक ऐसे वाहन चालकों के खिलाफ 500 रुपए तक चालान करने का प्रावधान है। चालान लगातार किए भी जाते हैं लेकिन दबंगों को इसका कोई भय नहीं है।






और कुछ नहीं लिखा होना चाहिए.................
यातायात पुलिस ऐसे वाहन चालकों के खिलाफ  कार्रवाई कर रही है। लेकिन उसके बाद भी परिवहन नियमों को दरकिनार कर वाहन सड़कों पर दौड़ रहे हैं। किसी वाहन पर नंबर नहीं है तो तो किसी नंबर प्लेट अधूरी है। किसी वाहन पर नंबर इस प्रकार से लिखे हैं कि पूरे नंबर समझ ही नहीं सकते। वाहनों के आगे और पीछे दोनों ओर प्लेटों पर नंबर लिखने का नियम है। प्लेट पर अन्य और कुछ नहीं लिखा होना चाहिए।






विशेष लोगों के लिए होती है अलग नंबर प्लेट..............
जिस प्रकार से आम व्यक्ति के लिए सफेद और पीली नंबर प्लेट वाहन के हिसाब से निर्धारित है,उसी प्रकार से अन्य रंग की नंबर प्लेट विशेष विभाग या विशेष व्यक्तियों के लिए निर्धारित है। इनको परिवहन विभाग चेक नहीं कर सकता। नीली प्लेट उन वाहनों पर लगी होती है जिनका उपयोग विदेशी दूतावास या यूएन मिशन के अधिकारी करते हैं। लाल प्लेट भारत के राष्ट्रपति या फिर किसी प्रदेश के राज्यपाल के वाहन पर होती है।






**** क्या है नियम....................?
-नंबर प्लेट का निश्चित आकार रहता है-19.53*4.75 इंच।
-कमर्शियल वाहन नंबर प्लेट पीली हो।
-नंबर प्लेट पर अंग्रेजी के कैपिटल शब्दों में लिखा होना चाहिए।
-नंबर प्लेट पर विभाग या जाति नहीं लिखी होनी चाहिए।






हो यह रहा है....................
-कई वाहनों से गायब हैं नंबर प्लेट।
-नंबर स्पष्ट नहीं है,अधूरे हैं।
-जाति का नाम लिख दिया गया है।
-मानक के अनुरूप नंबर नहीं हैं।






यह एक बड़ा अपराध है..............
नंबर प्लेट नहीं लगा होना या फिर मानक के रूप नहीं होना,यह एक बड़ा अपराध है। किसी भी घटना में उपयोग किए गए वाहन को नंबर के द्वारा पकड़ा जा सकता है।
..................कृतिका मोहता-आरटीओ,झाबुआ





 
शहर में अभियान चलाएंगे...................
बिना नंबर प्लेट के वाहन चलाना एक अपराध है,लोगों को स्वयं ही नियमों का पालन करना चाहिए। हम इसके लिए एक अभियान चलाएंगे और इसके लिए प्रभावी कार्रवाई करेंगे।
.....................रणजीत सिंह ठाकुर-यातायात प्रभारी,झाबुआ




Share To:

Post A Comment: