भोपाल~हिंदी भाषा मां तो उर्दू भाषा मौसी है _आजाद अंसारी~~

उर्दू भाषा ने तहजीब सलीका सिखाया_ गुलाम हुसैन~~

भोपाल( सैयद रिजवान अली)

जबलपुर में राष्ट्रीय उर्दू भाषा विकास परिषद शिक्षा मंत्रालय भारत सरकार द्वारा किताबों की नुमाइश प्रदर्शनी कार्यक्रम में बतौर मेहमान  शामिल हुए हर दिल अजीज मिलनसार वरिष्ठ समाजसेवी पार्षद गुलाम हुसैन ,आजाद अंसारी ,हाजी शेख निजामी, हाजी फिरोज ,कमाल बाबू अनवर निजामी ,गुलाम गौस, राशिद राही शकील बागी साथ ही बच्चे बड़े बुजुर्गों और महिलाओं के साथ सैकड़ों उर्दू अदब के लोग मौजूद रहे। इस अवसर पर आजाद अंसारी ने कहा हिंदी भाषा मां है तो उर्दू भाषा मौसी है पार्षद गुलाम हुसैन ने कहा उर्दू भाषा ने तहजीब और सलीका सिखाया गीत ग़ज़ल संवाद डायलॉग उर्दू भाषा के ही शब्दों के प्रयोग से बनते हैं आज जरूरत है उर्दू भाषा की रक्षा की। उन्होंने कहा मध्यप्रदेश शासन और भारत सरकार से यह मांग रखता हूं मैं कि पूरे प्रदेश में जहां शासकीय उर्दू प्राथमिक शाला हैं, उन्हें उन्नयन कर शासकीय उर्दू मिडिल शाला बनाएं तथा जहां शासकीय उर्दू मिडिल शालाएं हैं उन्हें उन्नयन कर हाई स्कूल हाई सेकेंडरी बनाई जाए ताकि नई पीढ़ी उर्दू भाषा की जानकार बने।


Share To:

Post A Comment: