*अलीराजपुर~शासकीय महाविद्यालय, सोंडवा में भूतपूर्व छात्र सम्मेलन का आयोजन*~~

✍🏻 साबिर शैख़ (सबु) अलीराजपुर
  📲  9981149555

शासकीय महाविद्यालय, सोंडवा में दिनांक 04/08/2022 को महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. भूपेन्द्र तिवारी के निर्देशन में भूतपूर्व छात्र सम्मेलन (एलुमनाई मीट) का आयोजन किया गया। उक्त सम्मेलन में महाविद्यालय से सत्र 2018 -19, 2019-20, 2020-21 तथा 2021-22 में स्नातक अंतिम वर्ष की परीक्षा उत्तीर्ण कर चुके छात्र/छात्राओं ने बड़ी संख्या में भाग लिया। सम्मेलन का शुभारंभ प्राचार्य महोदय द्वारा  देवी सरस्वती  को दीप प्रज्जवलन तथा माल्यार्पण कर किया गया। महाविद्यालय के प्रो.राजेश बारिया, प्रो. तबस्सुम कुरैशी तथा भूतपूर्व छात्र संगठन के पूर्व अध्यक्ष अमित जमरा द्वारा पुष्प माला से  प्राचार्य महोदय का अभिनंदन किया गया। उसके पश्चात सम्मेलन की संयोजक प्रो.नीलम   पाटीदार ने स्वागत  भाषण  देते हुए कहा कि  किसी भी शिक्षण संस्था के विकास में भूतपूर्व छात्र महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है, तथा इस तरह के सम्मेलन भूतपूर्व छात्रों को महाविद्यालय से हमेशा जोड़े रखते है। इस सम्मेलन में भूतपूर्व छात्र संगठन (एलुमनाई एसोसिएशन)का गठन किया गया। जिसमें भुवन बारिया अध्यक्ष, सुभाष डावर उपाध्यक्ष, दयाराम सोलंकी कोषाध्यक्ष, दया वास्केल सचिव तथा अनिल सोलंकी सहसचिव के पद पर निर्वाचित हुए। उक्त निर्वाचन प्रक्रिया को प्रो. सायसिंग अवास्या द्वारा संपन्न करवाया गया।  श्री मोहन कुमार डोडवे तथा डॉ. प्रिया बघेल ने सहयोग किया।सभी छात्रों का पंजीयन कर प्रतिसाद पत्र भरवाया गया। डॉ.मुकेश अजनार द्वारा "हर घर तिरंगा अभियान" के अंतर्गत छात्रों को शपथ दिलवाई गई। महाविद्यालय में सम्मेलन के दौरान जिला उद्योग एवं व्यापार केंद्र अलीराजपुर के प्रबंधक श्री एस. एल. सोलंकी तथा सहायक प्रबंधक रितेश मंडलोई उपस्थित थे। श्री सोलंकी ने विद्यार्थियों को स्वरोजगार एवं आत्मनिर्भर बनने हेतु मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के विकल्पों तथा प्रक्रिया से अवगत कराया। महाविद्यालय की आई. क्यू. ए. सी. सेल तथा एस. वी. सी. जी. प्रकोष्ठ प्रभारी प्रो.तबस्सुम कुरैशी ने इस अवसर पर विद्यार्थियों को उपरोक्त योजनाओं का लाभ उठाकर आत्मनिर्भर बनने के लिए प्रेरित किया। तत्पश्चात् प्राचार्य महोदय ने अपने उद्बोधन में कहा कि सभी विद्यार्थी इसी तरह भविष्य में भी महाविद्यालय से जुड़े रहे। उन्होंने स्वयं का उदाहरण भी दिया कि वे आज भी अपने महाविद्यालय से जुड़े है। आगे उन्होंने कहा कि सोंडवा महाविद्यालय के नए भवन में वर्तमान में अध्ययनरत विद्यार्थियों को अधिक से अधिक सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं, तथा वे प्रयास करेंगे कि शीघ्र ही महाविद्यालय में स्नातकोत्तर की कक्षाएं भी प्रारंभ हो जाए। उन्होंने भूतपूर्व छात्रों को रोजगार से संबंधित जानकारी के लिए महाविद्यालय के एस. वी. सी. जी. प्रकोष्ठ से संपर्क में रहने तथा स्वरोजगार के लिए जिला उद्योग एवं व्यापार केंद्र के माध्यम से सरकार की योजनाओं का लाभ उठाने के लिए कहा तथा भूतपूर्व संगठन के पदाधिकारियों को निर्वाचन पर बधाई  और सभी छात्रों को भविष्य के लिये शुभकामनाएं दी। इसके पश्चात प्राचार्य महोदय द्वारा सभी निर्वाचित पदाधिकारियों तथा समस्त भूतपूर्व छात्रों को प्रमाणपत्र तथा सोंडवा महाविद्यालय की सत्र 2019-20 और 2020-21 की वार्षिक पत्रिका आरोहण का वितरण किया गया। उक्त सम्मेलन में महाविद्यालय के प्रशासनिक अधिकारी डॉ. मुकेश अजनार, प्रो.राजेश बारिया, कार्यक्रम के व्यवस्थापक प्रो. विशाल देवड़ा ,श्री मोहन कुमार डोडवे तथा डॉ. विजयता पंडित, श्रीमती कविता चौहान और प्रो. कनु बडोले का सहयोग रहा। कार्यक्रम का संचालन प्रो. नीलम पाटीदार और आभार प्रो. सायसिंग अवास्या ने व्यक्त किया।


Share To:

Post A Comment: