धार~ग्वालियर-चंबल माफिया पैटर्न..... अपहृत नायब तहसीलदार को पुलिस ने किया दस्तयाब, ~~

आईएएस अफसर की स्थिति सामान्य 
जिला स्तर पर एडीएम की अध्यक्षता में दो सदस्यीय मजिस्ट्रियल जांच दल गठित ~~

टीम प्रशासन पर हमले के बाद कांग्रेस भाजपा पर हुई हावी, कुक्षी विधायक ने सीएम को लिखा पत्र~~

डीसीसी अध्यक्ष गौतम ने कहा- जिले में आज तक प्रशासनिक टीम पर हमले की घटना देखी-सुनी नहीं ~~

5 नामजद एवं अन्य लोगों के खिलाफ पुलिस ने दर्ज किया प्रकरण, 1 गिरफ्तार शेष की तलाश जारी ~~

ट्रक सहित 65 लाख कीमत की शराब जब्त, प्रशासनिक टीम पर हमले की सूचना पर कमिश्नर-आईजी पहुंचे कुक्षी ~~

मुख्य आरोपी सुखराम पर पूर्व में कई प्रकरण है दर्ज, पूर्व भाजपा मंत्री का नजदीकी है आरोपित~~
 
पूर्व मंत्री बघेल ने धार-बड़वानी-आलीराजपुर के आबकारी अधिकारियों को निष्पक्ष जांच पूर्ण होने तक निलंबित करने की रखी मांग ~~

एसपी आदित्य प्रतापसिंह ने कहा- आरोपी के मकान तोड़ने की कार्रवाई प्रस्तावित, दोषियों को नहीं छोड़ेंगे ~~

धार ( डाॅ. अशोक शास्त्री )।

 मंगलवार अलसुबह कुक्षी-आलीराजपुर जिले के मध्य ग्राम हल्दी मार्ग पर अवैध शराब का ट्रक पकड़ने के दौरान माफियाओं द्वारा अपहृत किए गए नायब तहसीलदार राजेश भिड़े को पुलिस ने दस्तयाब कर लिया है। इधर शराब माफियाओं द्वारा पिटाए एसडीएम (आईएएस) सामान्य स्थिति में है। उन्हें कोई गंभीर चोंट नहीं आई है। पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी मुकाम पिता भादू भील को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं मुख्य आरोपी सुखराम सहित अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए प्रयास शुरु हो गए है। इधर घटना के बाद संभाग आयुक्त पवन शर्मा और पुलिस महानिरीक्षक ग्रामीण राकेश गुप्ता भी कुक्षी पहुंच गए थे। फिलहाल स्थितियां सामान्य है। प्रशासन की तोड़फोड़ में क्षतिग्रस्त गाड़ियों को हटाने की कार्रवाई की गई है। कुक्षी पुलिस ने 5 आरोपियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया है। जिले में प्रशासनिक टीम पर हमले की घटना के बाद कांग्रेस प्रदेश भाजपा सरकार पर हमलावर हो गई है। दरअसल मुख्य आरोपी सुखराम पिता वेस्ता कनेश हाल मुकाम सेमलपाटी थाना आलीराजपुर पूर्व भाजपा मंत्री का नजदीकी रिश्तेदार है। इंदौर में बंबई के व्यापारी के अपहरण सहित अन्य मामलों में भी सुखराम लिप्त है। वहीं 1 आरोपी मुकाम पिता भडुपचाया ग्राम बंद थाना अंबुआ को मौके से गिरफ्तार किया है। 
ग्वालियर-चंबल माफिया पैटर्न 
जिले में ग्वालियर-चंबल माफिया पैटर्न से अवैध कारोबार होने लगे है। अवैध कारोबार को रोकने पर अब प्रशासनिक टीम पर हमले होने लगे है। धार-आलीराजपुर-झाबुआ आदिवासी जिलों से होते हुए गुजरात में शराब  में तस्करी लंबे समय से चल रही है। अब इसमें प्रतिस्पर्धा भी होने लगी है। रसूकदारों के समक्ष दूसरे लोग भी अपनी सेटिंग से ट्रकों से माल बुलवाकर ब्लैकरी में जुट गए हैं। मंगलवार को गुजरात ब्लैकरी से जुड़े एक समूह का ट्रक एसडीएम नवजीवन पंवार (आईएएस)  व नायब तहसीलदार राजेश भिड़े की टीम के हत्थे चढ़ गया। ट्रक को रोकने के बाद ट्रक के साथ लाईन क्लीयर कराने के लिए सपोर्ट में एक स्कायर्पियों वाहन भी चल रहा था। इस वाहन में बैठे लोगों ने शराब से भरे ट्रक को रोकते ही प्रशासनिक टीम पर पत्थरों से हमला कर दिया। इस दौरान नायब तहसीलदार राजेश भिड़े का अपहरण भी कर लिया गया था। वहीं एसडीएम के साथ मारपीट भी की गई। प्रशासनिक टीम के वाहन में भी तोड़फोड़ की गई। वहीं एसडीएम के गनमेन पुनित पांचाल, ड्रायवर अलाउद्दीन व अन्य प्रायवेट 4-5 लोगों के संघर्ष से ट्रक छोड़कर आरोपितों को भागना पड़ा। इस दौरान एक आरोपी मुकाम धरा गया था। 
कमिश्नर-आईजी ग्रामीण पहुंचे 
भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी पर हमले और नायब तहसीलदार के अपहरण की खबर फैलते ही जिला प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंच गए। इधर इंदौर संभागायुक्त पवन शर्मा सहित आईजी ग्रामीण राकेश गुप्ता भी कुक्षी पहुंचे। प्रशासनिक अधिकारियों से मामले की जानकारी ली और घटना में प्रभावित अधिकारियों से चर्चा की गई। एसपी आदित्य प्रतापसिंह ने बताया कि आरोपियों की तलाश जारी है।
बड़वानी की शराब कुक्षी पहुंची 
सुबह हुई घटना के बाद यह जानकारी सामने आई है कि धार की डिस्लरी के शराब बैच नंबर पाए गए है। इस बैच नंबर की शराब बड़वानी जाने वाली थी। यह शराब बड़वानी ना पहुंचकर कुक्षी से होते हुए आलीराजपुर जा रही थी। जहां से इसे गुजरात भेजा जाना था। इस मामले में   सहायक आयुक्त आबकारी यशवंत धनोरे ने सायं साढ़े 6 बजे चर्चा में कहा कि बैच नंबर की जानकारी निकाल ली है। प्रतिवेदन तैयार होने के बाद जानकारी सार्वजनिक की जाएगी। 
बॉक्स-1 
कांग्रेस हमलावर, भाजपा फिलहाल बैकफुट पर 
अवैध शराब माफिया की रिश्तेदारी भाजपा के पूर्व मंत्री से सामने आने के बाद कांग्रेस हमलावर हो गई है। कुक्षी के विधायक व पूर्व मंत्री सुरेन्द्रसिंह बघेल ने मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को पत्र जारी करके उच्च स्तरीय जांच की मांग की है। उन्होंने इंदौर, धार, खरगोन, बड़वानी, आलीराजपुर के सभी आबकारी अधिकारियों पर कार्रवाई की मांग की है। वहीं प्राथमिकता से इस मामले से जुड़े तीन जिले धार-बड़वानी-आलीराजपुर के अधिकारियों को जांच दौरान निलंबित करने की मांग की है। निष्पक्ष जांच प्रभावित ना हो इसलिए निलंबन की कार्रवाई जरूरी बताया है। इधर संबंधित फैक्ट्रियों के लाईसेंस निरस्त करने सहित अपराधिक प्रकरण दर्ज करने की मांग की है। वहीं शासकीय कर्मचारियों के अपहरण का प्रकरण भी दर्ज करने के लिए कहा है। पत्र में श्री बघेल ने लिखा है कि प्रशासनिक टीम पर हमले ने प्रदेश में कानून व्यवस्था और सुशासन के दांवे की पोल खोल दी है। प्रशासनिक अधिकारी सुरक्षित नहीं है तो आम जनता का क्या होगा।  
बॉक्स-2
जिले में कभी प्रशासनिक टीम पर हमले की घटना नहीं हुई-गौतम 
प्रशासनिक टीम पर हमले के बाद जिला कांग्रेस अध्यक्ष बालमुकुंदसिंह गौतम ने कहा कि अवैध शराब माफियाओं को राजनैतिक संरक्षण मिला हुआ है। धार-आलीराजपुर जिलों में प्रभाव वाले मंत्री का इनको संरक्षण है। जिले में सट्टा-जुआं और अवैध शराब का कारोबार इनके संरक्षण में ही पनप रहा है। अभी तक जिले में कभी भी प्रशासनिक टीम पर हमले की घटना नहीं हुई। अधिकारियों के अपहरण हो रहे हैं। उन्हें पीटा जा रहा है। ऐसे लोगों को संरक्षण देने वालों सहित अधिकारियों पर हमले करने वालों पर कड़ी कार्रवाई होना चाहिए। 
बॉक्स-3
चूक-पुलिस होती तो नहीं होता हमला कांड 
अलसुबह 4 से 5 बजे के दरम्यिान प्रशासनिक टीम पर हुए हमले और अपहरण की घटना में चूक  भारी भी पड़ सकती थी। एसडीएम के साथ यदि पुलिस टीम होती तो संभवत: अपहरण और मारपीट जैसी घटना पर रोक भी लग सकती थी। हालांकि एसडीएम द्वारा एकल प्रयास की सराहना भी हो रही है कि उन्होंने जोखिम की परवाह किए बगैर एक टीप पर शराब से भरे ट्रक को पकड़ने के लिए स्वयं को मैदान में झोंक दिया। लेकिन सवाल भी उठने लगे है कि यदि यह घटनाक्रम बड़ा हो जाता तो पुलिस को ना ले जाने की चूक भारी भी पड़ सकती थी। 
बॉक्स-4
55 लाख की शराब, 10 की गाड़ी 
एसडीएम नवजीवन पंवार के द्वारा अवैध शराब पकड़ने की इस कार्रवाई में यह भी स्पष्ट कर दिया है कि जिले में पुलिस और आबकारी की नाक के नीचे से ट्रकों से अवैध शराब आसानी से जिले के उस पार तक पहुंच रही है। मंगलवार को जो शराब पकड़ी गई है उसमें लंदन प्राईड, गोवा विस्की, बाम्बे विस्की ब्रांड की करीब 55 लाख अनुमानित कीमत की शराब जब्त की गई है। वहीं करीब 10 लाख कीमत का ट्रक क्रमांक एमपी-69-एच-0112 भी जब्त किया गया है।  
बॉक्स-5
मजिस्ट्रियल जांच दल गठित 
आईएएस अफसर और अन्य शासकीय कर्मियों पर हमले की घटना के बाद धार कलेक्टर ने तीन सदस्यीय मजिस्ट्रियल जांच दल गठित किया है। दल तीन बिंदुओं पर जांच करेगा। जिसमें मुख्य रूप से शराब परिवहन, भंडारण, स्टॉक, अभिलेखीकरण सहित आबकारी नियमों एवं निर्देशों के पालन में हुई चूक सहित घटना स्थल पर संदिग्ध लोगों की भूमिका, इलेक्ट्रानिक उपकरण, सीसी टीवी कैमरे, मोबाईल नंबरों की घटना में भूमिका की जांच करेगी। इसके अतिरिक्त घटना की पुनर्रावृत्ति ना हो इसको लेकर सुझाव भी देगी। दल में अध्यक्ष एडीएम शृंगार श्रीवास्तव रहेंगे। वहीं सदस्य के तौर पर धार एसडीएम सुश्री दीपाश्री गुप्ता और तहसीलदार विनोद राठौर शामिल रहेंगे। 

Share To:

Post A Comment: