धार~मजिस्ट्रियल जांच दल को जयस ने सौंपा ज्ञापन, रासूका कार्रवाई की मांग ~~

प्रशासनिक अधिकारी सुरक्षित नहीं तो आम लोग कैसे सुरक्षित रहेंगे-कांग्रेस ~~

धार ( डाॅ. अशोक शास्त्री )। 

आदिवासी समाज और जयस ने बुधवार को जिला प्रशासन के मजिस्ट्रियल जांच दल सदस्यों को सीएम के नाम संबोधित एक आवेदन सौंपा है। इस ज्ञापन में जिले के प्रशासनिक अधिकारियों पर अवैध शराब माफियाओं द्वारा किए गए हमले की कार्रवाई की निंदा की है। वहीं दोषियों पर रासूका लगाने की मांग भी की गई है। ज्ञापन में बताया गया है कि अब तक धार जिले में इस तरह की घटनाएं नहीं होती थी। ऐसे अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए बड़े रसूकदार लोगों पर भी कार्रवाई की जाना चाहिए। अभी तक आदिवासियों पर प्रकरण दर्ज करने की कार्रवाई की जाती थी। रसूकदारों पर बड़ी कार्रवाई नहीं होने से इस तरह की घटनाएं सामने आती है। सामाजिक कार्यकर्ता विजय चौपड़ा के नेतृत्व में एडीएम शृंगार श्रीवास्तव को आवेदन सौंपा गया।  जिसमें मांग की गई कि  शराब लायसेंस दुकान सीमा क्षेत्र से बाहर शराब की बिक्री नियमानुसार नहीं की जाना चाहिए, किन्तु शराब माफियाओं द्वारा आबकारी विभाग की मिली भगत से भारी मात्रा में इस प्रकार से अवैध शराब बिक्री को बढ़ावा दिया जा रहा है।  

बॉक्स-1
प्रशासनिक अधिकारी सुरक्षित नहीं तो आम लोग कैसे सुरक्षित रहेंगे-कांग्रेस 
सरदारपुर में सीएम के नाम संबोधित ज्ञापन एसडीएम राहुल चौहान को सौंपा 
धार। कुक्षी में अवैध शराब माफियाओं द्वारा प्रशासनिक टीम पर हमले की घटना के बाद सरदारपुर विधायक प्रताप ग्रेवाल के निर्देश पर ब्लॉक कांग्रेस कमेटी ने सीएम के नाम संबोधित एक ज्ञापन एसडीएम राहुल चौहान को सौंपा है। ज्ञापन में तहसील में भी अवैध गतिविधियों पर लगाम लगाने की मांग की है।
वहीं कुक्षी में हुई घटना की निंदा करते हुए सुशासन के दांवे और कानून व्यवस्था सवाल उठाए है। ज्ञापन में पूछा गया है कि जब प्रश ासनिक अधिकारी ही सुरक्षित नहीं है तो आम लोग कैसे सुरक्षित रहेंगे।  ज्ञापन में बताया कि  शराब तस्करो को सत्ताधारी पार्टी के नेताओं का संरक्षण होने की तरफ इशारा करता है क्योंकि कोई भी अपराधी प्रशासनिक अधिकारियों पर हमला नहीं कर सकता है। आरोपियों पर कड़ी कार्रवाई की मांग की है। ज्ञापन का वाचन युवक कांग्रेस विधानसभा अध्यक्ष दिनेश चौधरी ने किया।  इस दौरान पूर्व नपं अध्यक्ष ब्रजेश ग्रेवाल, दिलीप वसुनिया, तोलाराम गामड़, रतनलाल पड़ियार, दिनेश चौधरी, भारतसिंह डामर, गब्बु निनामा, बाबु खराड़ी आदि उपस्थित रहे।

Share To:

Post A Comment: